घर की रसोई में रखी इन चीजों से जल्द ठीक होगी रात में खर्राटों की समस्या

घर की रसोई में रखी इन चीजों से जल्द ठीक होगी रात में खर्राटों की समस्या

कुछ लोग बड़े ही गर्व से बताते हैं कि वह रात में सोते समय खर्राटे लेते हैं। आपको भले ही अपनी खर्राटों से कोई परेशानी ना हो लेकिन आपके आस-पास के लोगों को आपको खर्राटों से परेशानी हो सकती है।

आपको अपनी आवाज का पता इसलिए नहीं चलता क्योंकि आप काफी गहरी नींद में होते हैं। लेकिन ये आपकी कोई आदत नहीं है। खर्राटे लेना एक बीमारी है। जिसका इलाज आपकी रसोई में ही है।

ऑलिव ऑयल

पिपरमिंट तेल के साथ-साथ ऑलिव ऑयल भी खर्राटों को दूर करने का अच्छा तरीका है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो सासं लेने की प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है।

रोज रात में सोने से पहले ऑसिव ऑयल में उसी की मात्रा में शहद मिलाएं। और इसका रोज रोने से पहले सेवन करें। इससे आपके नाक के अंदर की सूजन जल्द ही खत्म होगी।

यह भी पढ़ें:- आपकी हड्डियों को कमजोर कर रही खान-पान की ये आदतें, समय रहते हो जाएं सावधान 

पिपरमिंट का तेल

खर्राटे एक बीमारी है जिसका मुख्य कारण नाक के छिद्रों में सूजन होता है। पुदाना शरीर के किसी भी हिस्से में आई सूजन के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल से नाक का रास्ता खुल जाता है जिस कारण आपको सांस लेने में कोई तकलीफ नहीं होती है। पुदीने के साथ-साथ पिपरमिंट के तेल भी नार के छिद्रों को खोलने के लिए काफी फायदेमंद होता है। सोने से पहले पिपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर उससे गरारे कर लें। इस उपाय को कुछ दिन तक करते रहें।

छोटी इलायची

इलायची सर्दी खांसी की दवा के रूप में काम करती हैं। यानी यह श्वसन नली खोलने का काम करती है। इससे सांस लेने की प्रक्रिया सुगम होती है। रात को सोने से पहले इलायची के कुछ दानों को गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पीने से समस्या से राहत मिलती है। सोने से पहले इस उपाय को कम से कम 30 मिनट पहले करें।

लहसुन

लहसुन, नासिका मार्ग में बलगम के निर्माण और श्वसन प्रणाली में सूजन को कम करने में मदद करता है। अगर आप साइनस रुकावट के कारण खर्राटे लेते हैं तो, लहसुन आपको राहत प्रदान करता है। लहसुन में हीलिंग गुण होते है। जो ब्लॉकेज को साफ करने के साथ ही श्वसन-तंत्र को भी बेहतर बनाते है।

अच्छी और चैन की नींद के लिए लहसुन का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है। एक या दो लहसुन की कली को पानी के साथ लें। इस उपाय को सोने से पहले करने से आप खर्राटों से राहत पा चैन की नींद ले सकते हैं।

हल्दी

हल्दी में एंटी-सेप्टिकक और एंटी-बायोटिक के भरपूर गुण पाए जाते हैं। इस कारण इसका इस्तेमाल नाक का रास्ता साफ करने के लिए बहुत उपयोगी माना जाता है। जिससे सांस लेना आसान हो जाता है। रात को सोने से पहले रोजाना हल्दी का दूध पीने से खर्राटों की समस्या से बचा जा सकता है।