स्पीकर बोले जल्द लोकसभा में सभी काम होंगे पेपरलेस, सरकार के बचेंगे का करोड़ो रूपये

स्पीकर बोले जल्द लोकसभा में सभी काम होंगे पेपरलेस, सरकार के बचेंगे का करोड़ो रूपये

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने गुरुवार को पैसों की बचत और पर्यावरण को बचाने के लिये संसद परिसर में डिजिटल सेवाओं के लिए जोर दिया। सांसदों से डिजिटल विकल्पों का उपयोग करने का आग्रह  भी किया। इसी पहल के रूप में स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि सदन को पेपरलेस बनाने की कोशिश की जाएगी। संसद को पेपरलेस बनाना एक ऐसा कदम जो पैसे बचाने में मदद करेगा।

गुरुवार को शून्यकाल के दौरान ओम बिरला ने लोकसभा सदस्यों से कहा कि हमें सदन में कम कागज का उपयोग किया जाना चाहिए क्योंकि प्रिंटिंग पेपर पर करोड़ों रुपये खर्च होते हैं। इसके अलावा सदन को पेपरलेस बनाने में जिससे पर्यावरण को संरक्षित करने में भी मदद मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा पहल के हिस्से के रूप में, सदस्यों के पास डिजिटल या कागज के रूप में अपने दस्तावेज चुनने का विकल्प होगा।

स्पीकर ओम बिरला ने दस्तवेजों के डिजिटलीकरण के अलावा संसद परिसर में कैंटीन समेत सौ प्रतिशत ऑनलाइन माध्यम से भुगतान करने का भी सुझाव दिया है।

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के वरिष्ठ नेता कल्याण बनर्जी ने स्पीकर के इस कदम का स्वागत करते हुआ कहा, हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि संसद में प्रभावी वाईफाई सेवाएं हों। उन्होंने कहा कि सदस्यों को किसी भी समय कागजात और दस्तावेजों की आवश्यकता होती है और अगर वाईफाई की उपलब्धता अच्छी नहीं है तो यह परेशानी का कारण बनता है।

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एसएस अहलूवालिया ने भी स्पीकर की “शानदार पहल ” की सराहना करते कहा कि सदन में बहुत सारे डिजिटल प्रावधान पहले से ही उपलब्ध हैं। अहलूवालिया ने कहा “मैं कोई पेपर नहीं लाता हूँ,मेरे पास केवल मेरा आईपैड है और मैं कई साल पहले ही पेपरलेस हो चूका हूँ”